“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥
 

Shree Siddhivinayak Ganapati Temple at Prabhadevi in Mumbai.

2015-09-04 10:53:00, comments: 0

भगवान श्री गणेश के आठ पवित्र मंदिर महाराष्ट्र के पुणे के समीप स्थित है। इसी अष्टविनायक यात्रा का एक पड़ाव श्री सिद्धविनायक गणेश मंदिर है। यह महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले की करजत तहसील के दूरस्थ गांव सिद्धटेक में स्थित है। सिद्धटेक भीमा नदी के किनारे बसा है। नदी का प्रवाह दक्षिणामुखी है। एक रोचक बात यह है कि यह स्थान बहुत शांत क्षेत्र है। इसका प्रमाण इस बात से मिलता है कि यहां भीमा नदी तेज गति से प्रवाहित होती है, परंतु उसका कोई शोर नहीं होता। यहां श्री सिद्धविनायक गणेश सिद्धी देने वाले बलशाली देवता के रुप में प्रसिद्ध हैं।

मंदिर और प्रतिमा -

अष्टविनायक गणेश में श्री सिद्धी विनायक मंदिर उत्तरामुखी होकर ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। मंदिर में श्री सिद्धविनायक गणेश की स्वयंभु प्रतिमा विराजित है। यह स्थान 5 फिट ऊंचा और 10 फीट लंबा है। सिद्धीविनायक प्रतिमा के आस-पास जय और विजय की कांसे से बनी मूर्ति भी विराजित है। मंदिर में ही शिव परिवार का छोटा सा मंदिर है। प्रतिमा जाग्रत मानी जाती है। यह तीन फीट ऊंची है और ढाई फीट चौड़ी है।

श्री सिद्धीविनायक की सूंड दाएं ओर मुड़ी हुई है। दांए सूंड वाली गणेश प्रतिमा और मंदिर को बहुत सिद्धी देने वाला माना जाता है। ऐसे गणेश शीघ्र कृपा करने वाले और प्रसन्न होने वाले माने जाते हैं। प्रतिमा गजमुखी है, फिर भी उनकी सूंड बहुत बड़ी नहीं है। रिद्धी और सिद्धी श्री गणेश की पालथी में विराजित है। मुख मण्डल बहुत सुंदर और आकर्षक है। एक प्रदक्षिणा 5 किलोमीटर की होती है। मुख्य मंदिर के समीप ही अन्य देवी-देवताओ के मंदिर है। जिनमें भगवान विष्णु, भगवान शिव और माता शीतला मंदिर प्रमुख है।

उत्सव -

श्री सिद्धीविनायक मंदिर में भाद्रपद और माघ माह की शुक्लपक्ष की प्रतिपदा से पंचमी के मध्य गणेश उत्सव धूमधाम से मनाए जाते हैं। इस दौरान यहां पर महापूजा और महाभोग का आयोजन होता है। भगवान गणेश की प्रतिमा को पालकी में बैठाकर कर नगर में भ्रमण कराया जाता है। आरती, पूजा आदि की जाती है।

कैसे पहुंचे -


वायु मार्ग से श्री सिद्धीविनायक, सिद्धटेक पहुंचने के लिए सबसे निकटतम हवाई अड्डे पुणे और मुंबई है। रेल मार्ग से सिद्धटेक जाने के लिए नजदीकी रेल्वे स्टेशन है  मुंबई, लोकमान्य तिलक, अहमदनगर और पुणे। पुणे- सोलापुर रेल मार्ग पर डांड स्टेशन से सिद्धटेक 18 किलोमीटर दूर स्थित है। सड़क मार्ग से पुणे से सिद्धटेक की दूरी 100 किमी और मुंबई से 275 किमी है। पुणे से डांड जाने वाली बस शिरापुर नाम ग्राम आती है। जहां से सिद्धटेक मात्र 1 किलोमीटर दूर है। यहां आकर बोट के माध्यम से सिद्धटेक पहुंचा जा सकता है।

Categories entry: Temple
« back

Add a new comment

Manifo.com - free business website